भारत में गणतंत्र दिवस

भारत में गणतंत्र दिवस कैसे बनाते हैं
बहुत साल पहले भारत ने इस सविधान का निर्माण किया था 26 जनवरी 1950 एक लोकतांत्रिक रूप  इसे लागू किया था जिसे आज पूरे देश में गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया जाता है और इस दिन एक नया संविधान देखने को मिला और इस दिन एक नया कानून देखने को मिला जिसे आज गणतंत्र दिवस को भारत में पर्व के रूप में मनाया जाता है 26 नवंबर 1949 सविधान को स्वीकार किया था और इसके बाद 26 जनवरी 1950 को पूरे देश में लागू कर दिया था
 और 26 जनवरी ही क्यों चुना गया था क्योंकि इस दिन कांग्रेश सरकार ने अंग्रेज सरकार के खिलाफ 26 जनवरी 1929 एक प्रस्ताव पास किया था फिर 26 जनवरी 1950 को पूरे देश में एक नया संविधान लागू हुआ था इस संविधान को बनाने में 2 वर्ष 11 माह 18 दिन लगे थे जिसमें कांग्रेस सरकार डॉक्टर भीमराव अंबेडकर पंडित जवाहरलाल नेहरू का बहुत बड़ा योगदान रहा है

 भारत में गणतंत्र दिवस कैसे बनाते हैं
 1, आज भारत देश में सभी जगह पर गणतंत्र दिवस मनाया जाता है जो कि दिल्ली में लाल किला पर तिरंगा को लहरााया जाता है दिल्ली सरकार ने इसके चलते यहां बहुत सारे कार्यक्रम भी रखते हैं दिल्ली में ही नहीं यह सभी भारत के अलग-अलग राज्यों में अपनी संस्कृति के हिसाब से गणतंत्र दिवस का पर्व मनाते हैं
2, भारत में विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम देखने को मिलते हैं जिसमें दिल्ली मैं एक बहुत बड़ी परेड का आयोजन किया जाता है जिसमें तरह-तरह के अलग-अलग राज्यों की संस्कृति के हिसाब से और भारत के सभी नौजवान का एक अलग ही देसी देखने को मिलता है और इस दिन सभी स्कूलों में अवकाश होने के बावजूद भी स्कूलों में सांस्कृतिक प्रोग्राम भी रखा जाता है जो अपने-अपने अंदाज में अपने देश के प्रतिअपना प्रोग्राम लोगों को दिखाकर
3, भारत में हर बार विदेशों से अतिथि को बुलाकर  इस कार्यक्रम हिस्सा लेते हैं स्कूल व कॉलेज में सरकारी कार्यालय तिरंगा लहराया जाता है और धूमधाम से गणतंत्र दिवस मनाया जाता है दिल्ली में इंडिया गेट पर परेड देखने को मिलती है बहुत भीड़ जमा होती है झांकियां भी निकलती है और अलग अलग संस्कृति देखने को मिलती है सेना अपने तीनों शक्ति दिखाती है वायु सेना थल सेना जल सेना परेड के द्वारा दिखाई जाती है जो कि देश को मजबूत बनाता है
4,  गणतंत्र दिवस की तैयारी कुछ दिन पहले ही हो जाती है साथ ही इस दिन हेलीकॉप्टर द्वारा दिल्ली में झंडे को लहराया जाता है एक अलग ही दृश्य देखने को मिलता है रिपब्लिक डे के दिन आर्मी सेना अपनी हवाई लड़ाकू विमान से अपना कर्तव्य जो अपने देश को ऊंचाई तो लेकर जाता है भारत का यह 71 वा गणतंत्र दिवस है बड़े ही धूमधाम से मनाया जाएगा जिसमें राष्ट्रपति द्वारा झंडे को लहराया जाएगा रिपब्लिक डे के दिन भारत के जितने भी नौजवान जो शहीद हुए हैं उनके लिए पुरस्कार भी रखा जाएगा..
5, गणतंत्र दिवस इस दिन प्रधानमंत्री द्वारा जो देश के लिए शहीद हुए उन्होंने जवानों को श्रद्धांजलि अर्पित करते हैं साथ देश के लिए एक अच्छी विचारधारा साथ ही देश में सभी जगह तिरंगा देखने को मिलता है इस दिन बहुत बड़ी परेड होती है जिसमें राष्ट्रपति भवन से लेकर इंडिया गेट तक राजपथ जाकर सलामी लेते हैं और फिर इसके बाद अलग अलग कार्यक्रम देखने को मिलते हैं बच्चे सुबह जल्दी उठकर की तैयारी में लग जाते हैं और जाकर रिपब्लिक डे का पर्व मनाते हैं स्कूलों के अंदर छोटे बच्चों को मिठाइयां दी जाती है और बहुत सारे पुरस्कार भी दिए जाते हैं इस दिन सरकारी कार्यालयोंं की छुट्टी रहती है और गणतंत्र दिवस मनाया जाता है क्योंकि यह दुनिया का सबसे बड़ा संविधान था उसको बनने में काफी समय लगा था जिससे सभी लोग सोशल मीडिया द्वारा और अखबारों में टीवी पर रिपब्लिक डे की शुभकामनाएं देते हैं जिससे यह पूरे भारत में पर्व के रूप में मनाया जाता है

No comments:

Post a Comment