रक्षा बंधन का त्योहार

रक्षा बंधन का त्योहार कैसे बनाया जाता है
रक्षा बंधन  हिन्दू  धर्म का  बड़ा  त्योहार है  रक्षा बंधन एक त्योहार  रूप में बनाया जाता है राखी भाई बहन  का त्योहार है अलग अलग देशो  बनया जाता है  राखी का  त्योहार श्रावण महा पूर्णिमा के अगस्त महीने में बनाया जाता है   राखी त्योहार आने पर बाजार में दुकानों पर राखी   सहजि हुई दिखाई  देती  है और अलग अलग  प्रकार की बिकती है   राखी  और कुछ दिन पहले सभी     लोग राखी खरी देने   में लग  जाते है राखिया  कहि प्रकार की  होती है       और इसके साथ साथ मिठायो की  दुकाने   सहजि होती है इससे बाजार में भीड़ भाड  देखने को मिलती है  और नए नए  कपड़े    खरीदते हैं                                                                                       राखी का  त्योहार  बनाने की  रशम > इस त्योहर  लोग घर  की सफाई में लग  जाते  है     जब   राखी का दिन आता है तब सभी लोग जल्दी उठकर राखी की तयारी में लग  जाते है सभी लोग नाह धोकर पुज्जा पाठ करने लग  जाते है उसके बाद राखी की पीतल की थाली भड़े ही सूंदर तरीके से सहजाया   जाता है  उस थाली राखी और मिठाई वे चावल और और तिलक वेगरा आदि सामग्री रःखी जाती है फिर  बहन   भाई को बुलाकर  कर  उसके हाथो पर  राखी  बांधती  और सिर  पर  तिलक निकालती फिर मिठाईया खिलाई जाती है  अगर भाई बड़ा हो तो भाई बहन  को आशीर्वाद देता है और रक्षया  करने का वचन देता है और  साथ में गिफ्ट भी दिया जाता है और अलग अलग संस्कृति हिसाब से पुरे भारत देश में राखी का   त्योहार  बड़े ही रूप    बनाया जाता है                       राखी  का त्योहार भावना का प्रतीक है > यहे  त्योहार भारत में   ही नहीं बल्कि नेपाल श्रीलंका बांग्लादेश  पाकिस्तान आदि   देशो में मनाया जाता है  यहे  हिन्दू धर्म का एक बड़ा त्योहार के रूप में  मनाया जाता है साथ ही यहे भारत के अलग  राज्यों में विभिन नियमो  के अनुसार धर्म के दुवारा राखी  त्योहार   यह  त्योहार धर्म निरपेक्ष काफी और  साथ ही समावेशी भी  है  इसलिए यही त्योहार प्र्रेम भावना को एकता में बदलता है और भाई  बहन  के रिश्ते को मजबूत करता है और   साथ ही ख़ुशी के रूप म मनाया जाता है                                     रक्षाबन्धन 2  शब्दो  के अनुसार बना  हुआ है > रक्षा का मतलब   बहन  पर जब कोई मुसीबत आती है तब भाई उसकी रक्षा करने के  तैयार रहेता  है बन्धन  का मतलब  डोर  के सामान है  जो की बन्धन   रूप  बाँध कर  रखती है साथ ही यहे  दोनों शब्द मिलकर यहे राखी का  त्योहार मनाया  जाता है साथ ही यहे  एक पवित्र रिस्ता होता है यहे  त्योहार भी  किसी भी धर्म   के  लोग बना  सकते है  इस त्योहार को बनाने के लिए लोग दूर  दूर  से आते है और   परिवार के  साथ यहे  त्योहार बनाया जाता है और घरो  में नए नए  पकवान बनाया जाता है लोग  खुशी   त्योहार को   बनाया जाता है  यहे  त्योहार 1 साल में एक बार आता और जिससे  त्योहार को  ज्यादा ख़ुशी से बनाते है यहे  त्योहार भावना को  दर्शाता है

No comments:

Post a Comment